Friday, August 2, 2019

Prerak Kahaniya दुष्टता का फल


प्रेरक कहानियां (prerak kahaniya )  दुष्टता का फल


prerak kahaniya-latestphoneprice.com


नमस्कार दोस्तों मैं हूं आपका दोस्तसूरज शुक्ला और आपकी इस पोस्ट में मैं आपके लिए लेकर कुछ प्रेरक कहानियां prerak kahaniya लेकर आया हूं. आज की हमारी prerak kahaniya का शीर्षक है दुष्टता का फल तोचलिए कहानी शुरू करते हैं.

कंचनपुर के एक धनी व्यापारी के घर में रसोई में एक कबूतर ने घोंसला बना रखा था.  किसी दिन एक लालची कौवा जो वहां उधर आ निकला.  वहां मछली को देख कर उसके मुंह में पानी आ गया.  तब उसके मन में विचार आया कि मुझे इस रसोई घर में घुस ना चाहिए लेकिन कैसे घुसा यह सोचकर वह परेशान था तभी उसकी नजर वह कबूतरों के गोस्लो पर पड़ी.

उसने सोचा कि मैं अगर कबूतर से दोस्ती कर लूं तो शायद मेरी बात बन जाए.  कबूतर जब दाना चुगने के लिए बाहर निकलता है तो कौवा उसके साथ साथ निकलता है. थोड़ी देर बाद कबूतर ने पीछे मुड़कर देखा तो कौवा उसके पीछे हैं इस पर कबूतर ने कौवे से कहा भाई तुम मेरे पीछे क्यों हो इस पर कबूतर से कहा कि तुम मुझे अच्छे लगते हो इसलिए मैं तुमसे दोस्ती करना चाहता हूं.  इस पर कौवे से कबूतर ने कहा कि हम कैसे दोस्त बन सकते हैं हमारा और तुम्हारा भोजन भी तो अलग है मैं बीच खाता हूं और तुम कीड़े.  इस पर कवि ने चापलूसी दिखाते हुए कहा कौन सी बड़ी बात है मेरे पास घर नहीं है इसीलिए हम साथ साथ तो रह सकते हैं ना और साथ ही भोजन खोजने आया करेंगे तुम अपना अपना खाना मैं अपना खाऊंगा.


इस पर घर के मालिक ने देखा कि कबूतर के साथ एक कौवा भी है तो उसने सोचा कि चलो कबूतर का मित्र होगा इसलिए उसने उस बारे में अधिक नहीं सोचा.  अगले दिन कबूतर खाना खोजने के लिए साथ चलने को कहता है तो कौवे के पेट में दर्द का बहाना बना वहीं रुक जाता है.  इस पर कबूतर अकेले ही चला गया क्या कि कव्वे ने घर के मालिक को यह कहते सुना था नौकर को आज कुछ मेहमान आ रहे हैं इसलिए तुम मछली बना लेना. 

उधर का नौकर के रसोई से बाहर निकलने का इंतजार ही कर रहा था कि उसके जाते ही करेंगी और झपटा और मछली उठा कर आराम से खाने लगा नौकर जब वापस आया तो कौवे को मछली खाता देख गुस्से से भर गया और कांग्रेस को पकड़कर गर्दन मरोड़  दी.


जब सामने कबूतर वापस आया तो उसने कवर की हालत देखी तो सारी बात समझ गयाइसीलिए कहा गया है कि दुष्ट प्रकृति के प्राणी को उसके किए की सजा अवश्य मिलती है.


Thursday, August 1, 2019

21 Chanakya Niti Bani in Hindi


Chanakya Niti Bani-चाणक्य नीति -  सफल होने के लिए मालूम होनी चाहिए यह 21 नीतियां


Chanakya Niti Bani/latestphoneprice.com
21 Chanakya Niti Bani in Hindi 

Chanakya Niti Bani - चाणक्य एक बहुत बड़े विद्वान थेचाणक्य एक गंभीर चिंतक के रूप में प्रसिद्ध थे.  चाणक्य के नीतियों के बारे में हम सब बहुत अच्छी तरीके से जानते हैं.  Chanakya Niti Bani लोक सदियों से याद करते चले आ रहे हैं.  इस पोस्ट के अंदर हम आपको चाणक्य की 21 नीतियों के बारे में बताएंगे.  यह नीतियां बहुत प्रसिद्ध है. चलिए शुरू करते हैं.



Chanakya Niti Bani - 21 चाणक्य नीति बानी



  • ब्राह्मणों को अग्नि की पूजा करनी चाहिए, दूसरे लोगों को ब्राह्मणों की पूजा करनी चाहिएपत्नी को पति की पूजा करनी चाहिए तथा दोपहर के भोजन के लिए जो अतिथि आए उसकी सभी को पूजा करनी चाहिए.

  • अनेक व्यक्ति जो एक ही गर्भ से पैदा हुए हैं या नक्षत्र में पैदा हुए हैं वह एक से नहीं रहते.  उसी प्रकार जैसे के बेर के झाड़ के सभी बेर एक से नहीं रहते.

  • मुड़ लोग बुद्धिमान ओं से ईर्ष्या करते हैं.  गलत मार्ग पर चलने वाली औरत पवित्र स्त्री से ऐसा करती है.  बदसूरत औरत खूबसूरत औरत से ईर्ष्या करती है.

  • खाली बैठने से अभ्यास का नाश होता है.  दूसरों को देखभाल करने के लिए देने से पैसा नष्ट होता है.  गलत ढंग से बुआई करने वाला किसान अपने बीजों का नाश करता है.  यदि सेनापति नहीं है तो सेना का नाश होता है.

  • जो वैदिक ज्ञान की निंदा करते हैंशास्त्र सम्मत जीवन शैली की मजाक उड़ाते हैंशांतिपूर्ण स्वभाव के लोगों की मजाक उड़ाते हैंवह बिना किसी आवश्यकता के दुख को प्राप्त होते हैं.

  • अकेले ही पैदा होता है.  अकेले ही मरता है.  अपने कर्मों के शुभ अशुभ परिणाम अकेले ही भोगता है.  अकेले ही नरक में जाता है.  या सद्गति प्राप्त करता है.

  • वासना के समान दुष्कर कोई रोग नहीं.  मोह के समान कोई शत्रु नहीं.  क्रोध के समान अग्नि नहीं.  स्वरूप के ज्ञान के समान कोई बोधन.

  • दान गरीबी को खत्म करता है.  अच्छा आचरण दुख को मिटाता है.  विवेक अज्ञान को नष्ट करता है.  जानकारी भय को समाप्त करती है.

  • जिसने अपने स्वरूप को जान लिया उसके लिए स्वर्ग तो तिनके के समान है.  एक पराक्रमी योद्धा अपने जीवन को तुच्छ मानता है.  जिसने अपनी कामना को जीत लिया उसके लिए स्त्री भोग का विषय नहीं. उसके लिए संपूर्ण ब्रह्मांड तुच्छ है जिसके मन में कोई आ सकती नहीं.

  • जब आप सफर पर जाते हैं तो विद्यार्जन ही आपका मित्र हैं.  बीमार होने पर दवा मित्र हैं.  अर्जित पुण्य मृत्यु के बाद एकमात्र मित्र. 

  • समुद्र में होने वाली वर्षा  व्यर्थ है.  जिसका पेट भरा हुआ है उसके लिए अन्य व्यर्थ है.  पैसे वाले आदमी के लिए भेटवस्तू का कोई अर्थ नहीं.  दिन के समय जनता दिया व्यर्थ है. 

  • वर्षा के जल के  समान कोई  जल नहीं . खुद की शक्ति के समान कोई शक्ति नहीं.  नेत्र ज्योति के समान कोई प्रकाश ने.  अन्य से बढ़कर कोई संपत्ति नहीं.

  • निर्धन को धन की कामनापशु को वाणी की कामना,  लोगों को स्वर्ग की कामनादेव लोगों को मुक्ति की कामना.

  • सत्य की शक्ति ही इस दुनिया का धारण करती है.  सत्य की शक्ति से ही सूर्य प्रकाशमान है.  हवाएं चलती हैं सही में सब कुछ सत्य पर आश्रित है.

  • आदमियों में नाई सबसे धूर्त है.  कौवा पक्षियों में धूर्त है.  लोमड़ी प्राणियों में धूर्त है.  औरतों में लंपट और सबसे धूर्त है.

  • यह सब आप के पिता हैंजिसने आप को जन्म दिया,  जिसने आपका यगोपवित संस्कार कियाजिसने आप को पढ़ाया,  जिसने आप को भोजन दिया,  जिसने आपको भरपूर परिस्थितियों में बचाया.

  • इन सब को अपनी माता समझेंराजा की पत्नी,  गुरु की पत्नीमित्र की पत्नी,  पत्नी की मां,  आपकी मां.

  • धर्म की रक्षा पैसे से होती हैज्ञान की रक्षा जमकर आजमाने से होती हैराजा से रक्षा उसकी बात मानने से होती हैघर की रक्षा एक दक्ष ग्रहणी से होती है.

  • पक्षियों में कौवा नीच हैपशुओं में कुत्ता नीचे,  जो तपस्वी पाप करता है वह घिनौना हैलेकिन जो दूसरों की निंदा करता है वह सबसे बड़ा चांडाल है.

  •  राख से घिसने पर पीतल चमकता हैतांबा इमली से साफ होता है,  औरत प्रदर से शुद्ध होती हैनदी बहती रहे तो साफ़ रहती है.

  • राजा, ब्राम्हण और तपस्वी योगी जब दूसरे देश जाते हैंतो आदर पाते हैं,  लेकिन औरत यदि भटक जाती है तो बर्बाद हो जाती है.

  • धनवान व्यक्ति के कई मित्र होते हैं.  उनके कई संबंधी भी होते हैं,  धनवान को ही आदमी कहां जाता है और पैसे वालों को ही पंडित का नवाजा जाता है.



Tuesday, July 30, 2019

chanakya niti in hindi


chanakya niti in hindi - चाणक्य नीति की 51 बातें जो आपका जीवन बदल सकती हैं


chanakya niti in hindi



1.      तीनों लोकों के स्वामी सर्वशक्तिमान भगवान विष्णु को नमन करते हुए मैं एक राज्य के लिए नीति शास्त्र के सिद्धांतों को कहता हूं.  मैं यह सूत्र अनेक शास्त्रों का आधार लेकर कह रहा हूं
2.       झूठ बोलनाकठोरता,  छल करनाबेवकूफी करना,  पवित्रता और निर्दयता यह औरत के  कुछ  दुर्गुण है
3.       भोजन के योग्य पदार्थ और भोजन करने की क्षमता सुंदर स्त्री और उसे  भोगने के लिए काम शक्ति , पर्याप्त धनराज तथा दान देने की भावना  ऐसे संयोग होने का संभावना सामान्य तप का फल नहीं है.
4.       उस व्यक्ति ने धरती पर ही स्वर्ग पा लिया जिसका पुत्र आज्ञाकारी हैजिसकी पत्नी उसकी इच्छा के अनुरूप व्यवहार करते हैं, जिसे अपने धन पर संतोष है.
5.      पुत्र वही है जो पिता का कहना  मानता हो,  पिता वही है जो पुत्रों का पालन-पोषण करें और पत्नी वही है जिससे आप सुख प्राप्त करें,
6.       ऐसे लोगों से बचे जो आपके मुंह पर मीठी बातें करते हैं, लेकिन आपको पीठ पीछे आप को बर्बाद करने की सोचते हैं ऐसा करने वाले उस मिस के घड़े के समान है जिस की सतह पर दूध से भरी होती है.
7.       एक बुरे मित्र पर तो कभी विश्वास ना करें. एक अच्छे मित्र पर भी विश्वास ना करें. क्योंकि यदि लोग आप आप से रूठ गए तो आपके सभी राज से पर्दा खोल देंगे.
8.       मन में सोचे हुए कार्य को किसी के सामने प्रकट न करें बल्कि मन पूर्वक उसकी सुरक्षा करते हैं उसे कार्य में  करें.
9.       मूर्खता दुखदाई है, जवानी भी दुखदाई है लेकिन इन सबसे ज्यादा दुखदाई है दूसरे के घर जाकर उसका एहसान लेना.
10.   हर पर्वत पर मारी कि नहीं होते, हर हाथी के सर पर मणि नहीं होता, सज्जन पुरुष भी हर जगह नहीं होता और हर 1 में चंदन के वृक्ष भी नहीं होते.
11.   बुद्धिमान पिता को अपने पुत्रों के शुभ गुणों को सीख देनी चाहिए क्योंकि नीति और ज्ञानी व्यक्तियों की ही कुल में पूजा होती है.
12.   जो माता-पिता अपने बच्चों को शिक्षा नहीं देते हैं वह बच्चों के शत्रु के समान हैं.  क्योंकि वह विद्या हीन बालक विद्वानों की सभा में वैसे ही तिरस्कृत किए जाते हैं जैसे हम सो की सभा में  बगुले.
13.   लाड प्यार से बच्चों में गलत आदतें डालती हैं उन्हें कड़ी शिक्षा देने से अच्छी आते हैं और इसीलिए बच्चों को जरूरत पड़ने पर दंडित करें ज्यादा प्यार ना करें.
14.   एक ऐसा भी दिन नहीं जाना चाहिए जब आप के 1 श्लोकआधा श्लोक,  चौथाई श्लोक य इस लोक का केवल एक अक्षर नहीं सीखा क्योंकि अभ्यास  या कोई पवित्र कार्य नहीं किया.
15.   पत्नी का वियोग होनाअपने ही लोगों से बेइज्जत होनाबचा हुआ ऋण,  दुष्ट राजा की सेवा करनागरीब एवं दरिद्र ओं की सभा में यह 6  बातें शरीर को बिना अग्नि के ही जला देती हैं .
16.  नदी के किनारे वाले वृक्षदूसरे व्यक्ति के घर जाने अथवा रहने वाली स्त्री एवं बिना मंत्रियों का राजा यह सब निश्चय ही शीघ्र नष्ट हो जाते हैं.
17.   एक ब्राह्मण का बल तेज और विद्या है, एक राजा का बल उसकी सेना में है, एक वैश्या का बल उसकी दौलत में है तथा एक शूद्र का बल उसकी सेवा में है.
18.   वैश्या को निर्धन व्यक्ति को त्याग देना चाहिए, प्रजा को पराजित राजा को त्याग देना चाहिएपक्षियों को फल रहित व्रत जाग देना चाहिए और अतिथियों को भोजन करने के पश्चात मेजबान के घर से निकल लेना चाहिए.
19.   ब्राह्मण दक्षिणा मिलने के पश्चात अपने यजमान ओं को छोड़ देते हैंविद्वान विद्या प्राप्ति के बाद गुरु छोड़ देते हैं और पशु चले जा  जले हुए उनको त्याग देते हैं.
20.   जो व्यक्ति दुराचारी एवं बुरे स्थानों पर रहने वाले मनुष्य के साथ मित्रता करता है वह शीघ्र नष्ट हो जाता है.
21.   प्रेम और मित्रता बराबर वालों में अच्छी लगती है राजा के यहां  नौकरी करने वालों को ही सम्मान मिलता है व्यवसाय में  वाणिज्य सबसे अच्छा है एवं उत्तम गुणों वाली स्त्री अपने घर में सुरक्षित रहती है.
22.   इस दुनिया में ऐसा किसका घर है जिस पर कोई कलंक नहीं.  वह कौन है जो रोग और दुख से मुक्ति सदा सुख  किसको रहता है.
23.   लड़की का  विवाह अच्छे खानदान में करना चाहिएपुत्र को अच्छी शिक्षा देनी चाहिए,  शत्रु को आपत्ति और कष्टों में डालना चाहिएएवं मित्र को धर्म-कर्म में लगाना चाहिए.
24.   एक दुर्जन और एक सिर्फ मैया अंतर है कि  सांप तभी डंक मारेगा जब उसकी जान को खतरा होगा लेकिन दुर्जन पग-पग पर आप को हानि पहुंचाने की कोशिश करेगा.
25.   राजा लोग अपने आसपास अच्छे कुल के लोगों को इसलिए रखते हैं क्योंकि ऐसे लोग ना आरंभ मे ना बीच में और ना ही अंत में साथ छोड़ कर जाते हैं.
26.   जब प्रलय का समय आता है तो समुद्र भी अपनी मर्यादा छोड़कर किनारों को छोड़ अथवा तोड़ देते हैं लेकिन सज्जन पुरुष के समान भयंकर आपत्ति एवं विपत्ति में भी अपनी मर्यादा नहीं बदलते हैं,
27.   मूर्खों के साथ मित्रता नहीं करनी चाहिए उन्हें त्याग देना चाहिए क्योंकि प्रत्यक्ष रूप से वह दोपहर वाले पशु के समान है जो अपने धारदार वचनों से वैसे ही हृदय को छलनी करता है जैसे अदृश्य कांटा शरीर को घुसकर चलने करता है.
28.   रूप और यौवन संपन्ना कुलीन परिवार में जन्म लेना  पलाश के फूल के समान हैं जो सुंदर तो है लेकिन खुशबू रहित हैं.
29.   कोयल की सुंदरता उसके गायन में है एक स्त्री की सुंदरता उसके अपने परिवार के प्रति समर्पण में है और एक बदसूरत आदमी की सुंदरता उसके ज्ञान में एक तपस्वी की सुंदरता उसकी क्षमा शीलता में है.
30.   कुल की रक्षा के लिए एक सदस्य का बलिदान दे गांव की रक्षा के लिए एक कुल का बलिदान दे देश की रक्षा के लिए गांव का बलिदान दे आत्मा की रक्षा के लिए देश का  बलिदान दे.
31.   अत्यधिक सुंदरता के कारण सीता हरण हुआ, अत्यंत घमंड के कारन रावन का अंत हुआ, अत्यधिक दान देने के कारन रजा बाली को बंधन में बंधना पड़ा  अतः सर्वत्र अति को त्यागना चाहिए.
32.   पाकिस्तानी लोगों के लिए कौन सा कार्य कठिन है व्यापारियों के लिए कौनसा जगह दूर है विद्वानों के लिए कौन सा देश विदेश है  मधु भाषियों का कोई शत्रु नहीं है.
33.   जिस तरह सारा वन केवल एक ही पुष्पम सुगंध भरे वृक्ष से महक जाता है उसी तरह एक ही गुणवान पुत्र पुरे कुल का नाम बढ़ाता है.
34.   जिस प्रकार केवल एक सुखा हुआ जलता वृक्ष संपूर्ण वन को जला देता है उसी प्रकार एक ही कुपुत्र सरे कुल के मान मर्यादा और प्रतिष्ठा को नष्ट कर देता है.
35.   विद्वान एक सदाचारी एक ही पुत्र के कारण संपूर्ण परिवार वैसे खुशहाल रहता जिसे चंद्रमा निकलने पर  रात  जगमग आ उठती है.
36.   ऐसे अनेक पुत्र किस काम के जो दुख और निराशा पैदा करें इससे तो एक ही पुत्र अच्छा है जो संपूर्ण घर को सहारा और शांति प्रदान करें.
37.   5 साल तक पुत्र को लाल एवं प्यार से पालन करना चाहिए 10 साल तक उसे छड़ी की मार से डराए लेकिन जब वह 16 साल का हो जाए तो उसे मित्र के समान व्यवहार.
38.   वह व्यक्ति सुरक्षित रह सकता है जो नीचे दी गई हुई परिस्थितियों उत्पन्न होने जाने पर भाग जा,आपदा, विदेशी आक्रमण, भयंकर अकाल, दुष्ट व्यक्ति का संघ.
39.   जो व्यक्ति इन बातों को अर्जित नहीं करता वह बार-बार जन्म लेकर मरता है, धमर, अर्थ, काम, मोच.
40.   व्यक्ति कितने साल जिएगा, वह किस प्रकार का काम करेगा, उसके पास कितनी संपत्ति होगी और उसकी मृत्यु कब होगी.
41.   पुत्र मित्र सगे संबंधी साधुओं को देखकर दूर भागते हैं लेकिन जो लोग साधुओं का अनुसरण करते हैं उन्हें भक्ति जागृत होती है उनके पास उस पूर्ण से उनका सारा कुल धन्य हो जाता है.
42.   जैसे मछली दृष्टि से कछुआ ध्यान देकर और पंछी स्पर्श करके अपने बच्चों को पालते हैं वैसे ही संत जन पुरुषों की संगति पुरुष का पालन पोषण करती है.
43.   जब आपका शरीर स्वस्थ है और आपके नियंत्रण में है उसी समय आत्मा साक्षात्कार का उपाय कर लेना चाहिए क्योंकि मृत्यु हो जाने के बाद कोई कुछ नहीं कर सकता.
44.   विद्या अर्जन करना एक कामधेनु के समान है जो हर मौसम में अमृत प्रदान करती है वह विदेश में माता के संरक्षक एवं हितकारी होती इसीलिए विद्या को एक गुप्त धन कहा जाता है.
45.   सैकड़ों रहित पुत्रों से अच्छा एक बूढ़ी पुत्र है क्योंकि एक चंद्रमा ही रात्रि के अंधकार को भगाता है असंख्य तारे यह काम नहीं करते.
46.   यह कैसा बालक जो जन्म वक्त मृत्यु था एक मूर्ख दीर्घायु बालक से बेहतर है पहला बालक जो एक क्षण के लिए दुख देता है दूसरा बालक उसके मां-बाप को जिंदगी भर दुख की अग्नि में जल आता है.
47.   गाय किस काम की जो ना तो दूध देती है ना बच्चों को जन्म देती है. उसी प्रकार उस बच्चे का जन्म किस काम का जो ना ही विद्वान हुआ ना ही भगवान का भक्त हुआ.
48.   जब व्यक्ति जीवन में दुख से जुड़ता है उसे निम्नलिखित बातों का सहारा देते हैं पुत्र और पुत्री, पत्नी, भगवान के भक्त.
49.   यह बातें एक बार ही होनी चाहिए राजा का बोलना, विद्वान व्यक्ति का बोलना, लड़की का ब्याह.
50.   वह अच्छी पत्नी है जो त्रिपुंड है, पारंगत है, शुद्ध है पति को प्रसन्न करने वाली है और सत्यवादी है.
51.   जिस व्यक्ति के पुत्र नहीं उसका घर उजाड़ है जिसके कोई संबंध ही नहीं उसकी सभी दिशाएं उजाड़ है मूर्ख व्यक्ति का हृदय उजाड़ है निर्धन व्यक्ति का सब कुछ उजाड़ है.

 अंतिम शब्द


 दोस्तों आपको हमारी यह पोस्ट कैसी लगी हमें आता है कि हम आपको हमारी यह पोस्ट बेहद अधिक पसंद आई होगी.  आपको अगर भविष्य में कुछ करना है तो चाणक्य की इन नीतियों का पालन करना चाहिए तभी आप आगे बढ़ पाएंगे ऐसी नीतियों के बारे में और जानने के लिए आप हमारी इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें और इस वेबसाइट के ऊपर फिर से विजिट करें.  धन्यवाद! 


rochak tathya in hindi


201 Rochak Tathya In Hindi -  क्या आप जानते हैं ? देश दुनिया के बारे में 201 रोचक तथ्य 



रोचक तथ्यदुनिया में ऐसी कई चीजें हैं जिनके बारे में शायद आप नहीं जानते होंगे या शायद हो सकता है आपने कभी सुना ही ना हो, तो दोस्तों आज हम कुछ ऐसे ही आपको मजेदार रोचक तक इस पोस्ट के अंदर बताने वाले हैं जिन्हें आप शायद पहली बार सुन रहे होंगे.  इस पोस्ट के अंदर हम आपको कई चीजों के बारे में रोचक तथ्य बताएंगे जैसे कि पशु,  देश,  ऐतिहासिक निर्माण,  मानव शरीर,  प्राकृतिक,  व्यक्ति,  तकनीक और युद्ध इन सब चीजों के बारे में हम आपको कुछ rochak tathya बताएंगे.  चलिए शुरू करते हैं!

rochak tathya in hindi
rochak tathya in hindi



 पशु


1.      चमगादड़ गुफा से निकलते समय हमेशा बाएं हाथ मुड़ते हैं.
2.       चमगादड़ ओं की एक छोटी सी बच्ची 1 साल में 1000 किलो कीड़े और 60000000 खटमल खा जाती है.
3.       एक सर्वे के अनुसार लगभग 140 बड़े बुरे चमगादर एक गर्मी के मौसम में बहुत सारे ऐसे कीड़ों को खा सकते हैं जो  फसल को नुकसान पहुंचाते हैं
4.       दुनिया के सबसे लंबे चमगादड़ के पंखों की लंबाई 5 से 6 फुट तक की मापी गई है.
5.       संसार में लगभग चमगादड़ ओं की 1100 प्रजातियां पाई जाती है.
6.      चमगादड़ इकलौते स्तनधारी प्राणी है जो कि पुर सकते हैं.
7.       एक बुरा चमगादड़ लगभग 40 साल तक जीता है जो कि इन जैसे आकार वाले स्तनधारियों से कहीं ज्यादा हैचूहे और  छछूंदर 2 साल से भी कम जीते हैं.
8.       पृथ्वी पर जितने भी स्तनपाई प्रजातियां हैं उनमें से 20% आबादी चमगादड़ ओं की है.
9.       कुछ छोटे प्रकार के चमगादड़ जब सो रहे होते हैं तो उनके दिल की गति सिर्फ 18 बार प्रति मिनट होती है पर जब वह जाग जाते हैं तो उनकी गति 880 तक पहुंचती है.
10.  एक ध्रुवीय भालू बिना आराम किए 160 किलोमीटर तक तैर सकता है.
11.   कुछ ऐसे काले भालू भी होते हैं जो कि सफेद भालू में बदल जाते हैं और यह भालू बहुत दुर्लभ होते हैंकुछ अमेरिकी मानते हैं कि इनके पास कोई देवी शक्ति होती है.
12.   नवीन दुनिया के बंदरों के 36 दांत होते हैं जबकि प्राचीन दुनिया के बंदरों के 32 दांत होते थे.
13.   बंदर आम तौर पर पेड़ों घास के मैदानों और पहाड़ों और जंगलों में रहते हैं.
14.   मनुष्य के सिवा केवल बंदर ही इकलौते ऐसे प्राणी है जो केले के छिलके उतारकर खाते हैं.
15.   बंदरों और मनुष्यों का 98% डीएनए आपस में मिलता है.
16.   बंदर फलो फूलो और पत्तों के इलावा कीड़े रेंगने वाले प्राणियों को भी खाते हैं.
17.   एक समुद्री शार्क का गर्भकाल 3 से 5 साल तक का होता है.
18.   कुछ सार अपने जीवन काल के दौरान अपने 30000 दांत खो देती हैं.
19.   शार्क मछली इस धरती पर 40 करोड़ साल से रह रही.
20.   डॉल्फिन मछलियां पानी के नीचे भी 24 किलोमीटर तक की दूरी तक सुन सकती है.



 देश


1.      अकेले आस्ट्रेलिया द्वारा हर साल 1 दशमलव 35 अरब शराब की बोतलें बनाई जाती है.
2.       ऑस्ट्रेलिया में 1 वर्ष में पैदा हुई उनसे स्कार्फ गुना जाए तो वह इतना बड़ा हो जाएगा कि पूरे विश्व को उसमें सौ बार लपेटा जा सकता है.
3.       पिछले एक दशक में चीन का आर्थिक विकास अमेरिका से 7 गुना ज्यादा रहा है.
4.       दुनिया में पचासी परसेंट बनावटी क्रिसमस ट्री और 80 परसेंट खिलौने चीन में बनाए जाते हैं.
5.       चीनी लोग हर सेकंड में 50000 सिगरेट पी जाते हैं.
6.       दुनिया का सबसे पुराना कागज का टुकड़ा चीन में पाया जाता है और जो पहली या दूसरी सदी ईसा पूर्व पुराना है. यह कागज का टुकड़ा बहुत मजबूत है और किसी कपड़े बनाने में उपयोग किया जाता है.
7.      लगभग हर अमेरिकी 1 साल में 600 कोल्ड ड्रिंक की जाता है.
8.       अमेरिका में लगभग 5 करोड़ 2600000 कुत्ते हैं.
9.       अमेरिका में हर साल आठ करोड़ पचास लाख दस कागज का इस्तेमाल होता है.
10.   अमेरिका का एक शहर है जिसका नाम डिंग डोंग है.

 ऐतिहासिक निर्माण 


1.      एफिल टावर मेटल से बना हुआ है इसलिए सर्दियों में 6 इंच तक सिकुड़ जाता है.
2.       एफिल टावर को अब तक कुल 25 करोड लोग देख चुके हैं और हर साल इसे देखने के लिए 7000000 लोग आते हैं.
3.       कुतुब मीनार के आधार का व्यास 14.3 मीटर है जो शिखर पर जाकर मात्र  2.75 मीटर रह जाता है.
4.      संत 1505 में क़ुतुब मीनार भूकंप से क्षतिग्रस्त हो गई थी तब सिकंदर लोधी द्वारा इसकी मरम्मत करवाई गई.
5.       क्या आप जानते हैं कि ताजमहल को शाहजहां ने बनवाया था इस बात का कोई सबूत मौजूद नहीं है.
6.       ताजमहल का निर्माण 1632 से शुरू होकर 1653 तक चला था, इस तरह ताजमहल बनाने में 22 साल लगे भारत के अलावा फारस और तुर्की के मजदूर भी थे.
7.       ताजमहल के हर नीव वाले कोने में एक एक मीनार है और यह चारों मीनारें मकबरे को संतुलन देती है.
8.       टाइटेनिक जहाज को 31 मार्च, 1909 को 3000 लोगों की टीम ने बनाना शुरू किया था और सिर्फ 26 महीने में यानी कि 31 मई 1911 तक इसे बना डाला था.
9.       टाइटेनिक 10 अप्रैल 1912 को इंग्लैंड के southmpton 3000 की की ओर रवाना हुआ.  4 दिन सब ठीक ठाक चलता रहा पर 14 अप्रैल 1912 को रात 11:40 बजे एक हिना पर्वत से टकरा गया और इसके निचले हिस्से में पानी भरना शुरू हो गया था.
10.   हिम पर्वत से टक्कर के लगभग 2 घंटे 40 मिनट बाद या जहाज पूरी तरह समुंदर में डूब गया.

 अन्य


1.       सबसे पहली घड़ी 1904 ईस्वी में बनाई गई थी.
2.       लॉस वेगास मानव द्वारा बनाया गया ऐसा स्थान है जो अंतरिक्ष से सबसे ज्यादा चमकीला दिखता है.
3.       कराटे का मतलब होता है खाली हाथ.
4.       बिजली गिरने से जो लोग मर जाते हैं उनमें से 40% पुरुष होते हैं.
5.        अफ्रीका में शेरों से ज्यादा लोग मगरमच्छों द्वारा मारे जाते हैं.
6.       संभोग करते समय महिलाओं के स्तन और योनि के अलावा नाक का भीतरी भाग भी भूल जाता है.
7.        किसी झंडे के ऊपर जोगेंद्र लगी होती है उसे ‘truck’  कहते हैं.
8.       80% चोरियां 13 से 21 साल की उम्र के बीच के लोग करते हैं.
9.        पेट्रोल के बाद कॉफी ऐसी चीज है जो सबसे ज्यादा बेटी और खरीदी जाती है.
10.   सबसे आम गाया जाने वाला गाना हैप्पी बर्थडे है.